रविवार, 2 नवंबर 2014

मेरे अरमान मेरी ख्वाहिश और मेरी तम्मना /Mere arman meri khwhish aur meri tammana

मेरे अरमान मेरी ख्वाहिश और मेरी तम्मना ।
Mere arman meri khwhish aur meri tammana.
मिलो तो कभी फुर्सत से ये सब फिर, पूछना।
Milo to kabhi fursat se ye sab fir,poochna
एसी पहेली बन गयी है ज़िन्दगी इन दिनों ।
Esi paheli ban gayee hai jundgi in dino
मुश्किल है बहुत ही जिसको समझना बूझना ।
Mushkil hai bhaut isko samajhna boojhna
नादान दिल निकल ले चुपचाप दूजी गली से ।
Nadan dil nikal le chupchap duji gali se
इश्क की गली है ये, आगे रास्ता नहीं सूझना ।
Isha ki gali hau ye aage rasta nahi sujhna.
दिल किसी से लगाने को मना करता नहीं मैं ।
Dil kisi se lagane ko mana karta nahi main
टूट जाए तो बस इलाज मुझ से पूछना 
Toot jaaye to bus ilaj mujh se poochna
**********शिवराज************
एक टिप्पणी भेजें