मंगलवार, 4 नवंबर 2014

जन्म दिन

साल में एक दिन, आता है 
जो एहसास दिलाता है 
काम करने ज्यादा है 
की कम बचे है दिन
             मेरा जन्मदिन

साल में एक दिन, मैं 
जांचने को की तन की उम्र 
से तेज तो नहीं है, मन की उम्र
चेहरे की झुर्रियां लेता, हूँ गिन              
               मेरा जन्म दिन

साल में एक दिन, मुझको
बधाइयों अम्बार होता है 
मगर मन में कहीं होता है 
कम हो रहे हैं जिंदगी के दिन 
             मेरा जन्म दिन 

साल में एक दिन, वो
सब दुख भूल जाती है 
लाती है तोहफा मेरे लिए
मुझे बताये बिन 
              मेरा जन्म दिन 

*******शिवराज*********
एक टिप्पणी भेजें