शुक्रवार, 2 जनवरी 2015

जान की कीमत


बेहद सर्द रात में
रैन बसेरे के अंदर
मनाता है कोई
नव वर्ष ठिठुर कर
कोई पांच सितारा में 
रंगीन रोशनियों से चमकता
अंग्रेजी धुन पर थिरक कर

बेहद सर्द रात में
रैन बसेरे के अंदर
कोई बड़बड़ा रहा है
जीवन की निराशा से
कोई पांच सितारा में
कुछ पैग लगा कर

बेहद सर्द रात में
रैन बसेरे के अंदर
ठण्ड से मर गया वो
भूखा था कल से जो
पांच सितारा के बाहर 
नशे में जान गयी
उसकी कार ठुक गयी

बेहद सर्द रात में
रैन बसेरे के अंदर
अगले दिन मातम है
उनमे आज एक कम है
और पांच सितारा में 
फिर मस्ती का आलम है
नहीं दीखता कोई गम है

बेहद सर्द रात में
अपने घर के अंदर 
सोच रहा हूँ 
कैसी विडम्बना है
रैन बसेरा या पांच सितारा
जान की कीमत बहुत कम है ।

----शिवराज-----
एक टिप्पणी भेजें