मंगलवार, 28 अप्रैल 2015

जलजला


इंसान को अपनी औकात दिखा गया ।
हल्का सा जलजला जो धरती पे आगया ।

आज बिलकुल सही मौका ये सोचने का है ।
क्या किसके साथ आया है और क्या गया ।

अपने बच्चों पे कहर ढाने का मकसद होगा ।
धरती माँ को इसमें कौन सा मज़ा आगया ।

~~~~~शिवराज

एक टिप्पणी भेजें