शनिवार, 5 सितंबर 2015

गुरु और चेला Teacher and Student

शिक्षक दिवस पर सभी शिक्षको
को मेरा सादर प्रणाम
---------------------
हर कोई 'गुरु' बनना चाहे
किसी का चेला कौन बने
मिले कहाँ से ज्ञान किसी को
बाकी सब जब गौण बने
सोचो समझो और पहचानो
क्या थे हम और कौन बने
इतना भी तुम मत इतराओ
फिर से तुम चेला बन जाओ
फिर जीवन अनमोल बने
----शिवराज------
एक टिप्पणी भेजें